माफी मांगने के लिए मुझे धमकाया जा रहा है: BSF में खराब खाने की शिकायत करने वाले जवान ने पत्नी को फोन कर बताया

12-1-17 1

बीएसएफ जवान तेज बहादुर की पत्नी शर्मिला ने कहा कि उनके पति की दिमागी हालत ठीक नहीं थी तो उन्हें बॉर्डर पर ड्यूटी के लिए क्यों भेज दिया। जवान की पत्नी शर्मिला ने कहा, ”तेज बहादुर ने जो किया, सच सामने लाने के लिए किया। लोग कह रहे हैं कि मेरे पति को मेंटल प्रॉब्लम है। ऐसा है तो उन्हें इलाज के लिए क्यों नहीं भेजा? बॉर्डर पर क्यों भेज दिया?” महेंद्रगढ़.बीएसएफ में खराब खाने की शिकायत करने वाले जवान तेज बहादुर ने नया दावा किया है। जवान ने पत्नी को फोन कर कहा है कि उसे आरोप वापस लेने और माफी मांगने के लिए धमकाया जा रहा है। जवान की इस बातचीत का ऑडियो DainikBhaskar.com के पास है। इससे पहले, बता दें कि इस जवान के चार वीडियो पिछले दिनों वायरल हुए थे। इसमें उसने बॉर्डर पर जवानों को ठीक से खाना नहीं मिलने के आरोप लगाए थे। पत्नी को लगता है की खाना ठीक से न मिलने के कारण उनके पति की तवियत ठीक नहीं है। जवान ने पत्नी से फोन पर और क्या कहा…

जवान ने अपनी पत्नी को फोन कर बताया, ”मैंने अधिकारियों को फोन किया। मेरी शिकायत है कि अधिकारी बात नहीं कर रहे। यहां घोटाला हो रहा है। मुझे धमकाया जा रहा है कि आरोप वापस लो और माफी मांगो। मैं चाहता हूं कि मीडिया से मेरी बात कराई जाए, ताकि मैं सफाई दे सकूं।” और उन्हें कुछ बता सकू। आगे की स्लाइड में सुनें इस बातचीत का ऑडियो

किरण रिजिजु बोले- सामने आई हैं कुछ समस्याएं…

गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजु ने कहा, “खराब खाने की शिकायत को लेकर उन्हें बीएसएफ से और कुछ ठंड़ी बहुत है इस लिये कुछ जवान बीमार है। शुरुआती रिपोर्ट मिली हैं। कुछ समस्याएं सामने आई हैं।” रिजिजु बोले, “मैं देश और मीडिया से अपील करता हूं कि जब तक इस मामले में फाइनल रिपोर्ट और फैक्ट सामने नहीं आ जाते, इसे बड़ा इश्यू ना बनाएं। ऐसा करने से जवानों के हौसले को ठेस पहुंचेगी।

12-1-17 4

फ्रीडम फाइटर की फैमिली से है तेज बहादुर

महेंद्रगढ़ के राताकलां गांव में रहने वाले तेज बहादुर के पिता शेर सिंह ने बताया कि वे फ्रीडम फाइटर फैमिली से हैं। उनके पिता ईश्वर सिंह आजाद सुभाष चंद्र बोस के साथ रहते थे। हरियाणा सरकार ने उन्हें ताम्र पत्र देकर सम्मानित किया है। शेर सिंह बोले, “तेज बहादुर भी दादा की तरह अधिकारों की बात करता था। वह फोर्स में जब अधिकार की बात उठाता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई होती है। बेटा कहता था कि सरकार तो खाना देती है, लेकिन अधिकारी खा जाते हैं।” ऐसा क्यों। शेर सिंह के पांच बेटे हैं। एक बेटा सुभाष चंद गुजरात पुलिस में, एक भीम सिंह बीएसएफ में है, कृष्ण दीप और हनुमान खेती करते हैं। तेज बहादुर सबसे छोटा है। हनुमान ने कहा कि पिछली दफा तेज गांव आया, तब भी उसे शिकायत थी कि खाना अच्छा नहीं मिलता।

पोस्टिंग कहीं भी कर दें, लेकिन तंग ना करें

तेज बहादुर की पत्नी शर्मिला रेवाड़ी की एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करती हैं। उनका एक बेटा रोहित आईआईटी की तैयारी कर रहा है। शर्मिला का कहना है कि उनके पति को कहीं भी पोस्टिंग कर दें, लेकिन तंग न करें। वे बोलीं, “उन्होंने केवल अच्छा खाना और रोटी मांगी थी। उन्होंने जो किया, सही किया। उनकी दिमागी हालत ठीक नहीं है, ये बात सही नहीं है।” बेटे रोहित ने कहा, “अगर मेरे पिता ऐसा नहीं करते तो हमें कैसे पता चलता कि जवानों के साथ वहां क्या हो रहा है। हम इसकी सही जांच चाहते हैं।”

क्या है मामला?

जम्मू-कश्मीर में तैनात बीएसएफ के जवान तेज बहादुर का शिकायती वीडियो पिछले दिनों वायरल हुआ था। उसने फेसबुक पर 4 वीडियो पोस्ट किए थे। इसमें आरोप लगाया था कि बॉर्डर पर जवानों को ठीक से खाना तक नहीं दिया जाता। वीडियो वायरल होने के बाद उसे एलओसी से शिफ्ट कर प्लम्बर का काम सौंप दिया गया। इसके बाद उसका एक ऑडियो क्लिप वायरल हुआ। इसमें उसने कहा- बीएसएफ अफसर मुझे डिसिप्लन तोड़ने का आरोपी बता रहे हैं।

12-1-17 7

अगर ऐसा है तो फिर मुझे 14 अवॉर्ड क्यों दिए गए? इस पर बीएसएफ आईजी डीके उपाध्याय ने बताया कि एलओसी पर तैनात फोर्स का राशन आर्मी सप्लाई करती है। ऐसे में, उसमें खराबी कैसे हो सकती है? बीएसएफ आईजी (जम्मू रेंज) डीके उपाध्याय ने बताया कि तेज बहादुर का 2010 में सीनियर अफसर पर बंदूक तानने के लिए कोर्ट मार्शल हुआ था।

12-1-17 8

परिवार का ख्याल करते हुए बर्खास्त करने के बजाय 89 दिन जेल में रखकर नौकरी बहाल कर दी गई। 20 साल के करियर में 4 बार कड़ी सजा मिल चुकी है। बता दें कि सीएजी की पिछले साल सामने आई रिपोर्ट में कहा गया था कि आर्मी के सर्वे में खुलासा हुआ कि 68% जवान खाने को असंतोषजनक या फिर लो लेवल का मानते हैं। सैनिकों को लो क्वालिटी का मीट और सब्जी दी जाती है। राशन भी कम होता है।

12-1-17 10

12-1-17-9

बीएसएफ जवान तेज बहादुर की पत्नी शर्मिला ने कहा कि उनके पति की दिमागी हालत ठीक नहीं थी तो उन्हें बॉर्डर पर ड्यूटी के लिए क्यों भेज दिया। इस बात से वो कॉफी परेशान है।

12-1-17-11

यदि आपको हमारी पोस्ट पसंद आये तो हमे कमेंट जरूर करे और हमारे पोस्ट को शेयर जरूर करे.

Comments