गणतंत्र दिवस हम सबके लिए खास, क्यों मनाया जाता हैं, पढ़े कुछ अहम तथ्य !

गणतंत्र दिवस हम सबके लिए खास, क्यों मनाया जाता हैं, पढ़े कुछ अहम तथ्य !

भारतवासियों के लिए गणतंत्र दिवस बहुत मायने रखता है भारत लोग इस दिन बेहद खुश होते हैं और इस दिवस को बेहद उत्साह के साथ मानते हैं। गणतंत्र दिवस गणतंत्र

देखे लड़के और लड़कियां इस पार्क के अंदर सरेआम कर रहे रोमांस !
इन फ़ोटोज़ को देखने के बाद आपको यकीन हो जाएगा कि लड़कियां बाकई एक तमाशा हैं।
अगले साल फरवरी में होगा एजुकेशन सिस्टम के खिलाफ मिशन ‘चीट इंडिया ‘

भारतवासियों के लिए गणतंत्र दिवस बहुत मायने रखता है भारत लोग इस दिन बेहद खुश होते हैं और इस दिवस को बेहद उत्साह के साथ मानते हैं। गणतंत्र दिवस गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को मनाया जाता है। ऐसी दिन यानि 26 जनवरी 1950 को हमारे देश भारत का संविधान लागू हुआ था। ऐसी कारन भारत में एक इतिहासिक दिन माना जाता हैं। संविधान लागू होने के कारन इसे सबसे महत्वपुर्ण दिन माना जाता हैं।

  • बैहद बड़ा हैं हमरा संविधान:-

भारत का संविधान निर्माण की प्रक्रिया में 2 वर्ष 11 महिना 18 दिन लगे थे। भारतीय संविधान के वास्तुकार डॉभीमराव अम्बेडकर प्रारूप समिति के अध्यक्ष थे। इसके रचियता भी डॉभीमराव अम्बेडकर ही हैं। भारतीय संविधान के निर्माताओं ने विश्व के अनेक संविधानों के अच्छे लक्षणों को अपने संविधान में आत्मसात करने का प्रयास किया है। इस दिन भारत एक सम्पूर्ण गणतांत्रिक देश बन गया था।

देश को गौरवशाली गणतंत्र राष्ट्र बनाने में जिन देश भक्तों ने हमारी आजादी के लिए वलिदान दिया हैं उनकी याद में भी 26 जनवरी मानते हैं और उनको श्रद्धांजलि दी जाती हैं।

  • कुछ महत्वपूर्ण जानकारी:-
  • 1. 26 जनवरी 1950 को 10.18 मिनट पर भारत का संविधान लागू किया गया।
  • 2. गणतंत्र दिवस की पहली परेड 1955 को दिल्ली के राजपथ पर हुई थी।
  • 3. भारतीय संविधान की दो प्रत्तियां जो हिन्दी और अंग्रेजी में हाथ से लिखी गई।
  • 4. पूर्ण स्वराज दिवस (26 जनवरी 1930) को ध्यान में रखते हुए भारतीय संविधान 26 जनवरी को लागू किया गया था।
  • 5. भारतीय संविधान की हाथ से लिखी मूल प्रतियां संसद भवन के पुस्तकालय में सुरक्षित रखी हुई हैं।
  • 6. जिन देश भक्तों ने हमारी आजादी के लिए वलिदान दिया हैं उनकी याद में भी 26 जनवरी मानते हैं और उनको श्रद्धांजलि दी जाती हैं।

ये भी पढ़ें

जानिए गन्ने के रस के ऐसे फायदे जो आपने कभी नहीं सुने होंगे।

इन चार लोगों की मौत की जिम्मेदारी रजनीकांत और कमल हसन लेंगे?

अस्थमा से लड़ें इन घरेलु उपचारों से

बियर है पेरासिटामोल से बेहतर दर्द की दवा

 

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0