जानिए कौन है ??यूट्यूब स्टार अमित भड़ाना।

जानिए कौन है ??यूट्यूब स्टार अमित भड़ाना।

"मास्टर भी यु कहे दे इसे न पढ़ाना नाम है जिसका अमित भड़ाना" दोस्तों अब तो आप समझ ही गए होंगे की हम किसकी बात करने वाले है, जी हाँ यूट्यूब स्टार 

अपने आप को मानती है सनी लियोनी जैसा ये भोजपुरी एक्ट्रेस, लाखो है फ़िदा !
इंजीनियर का शातिर दिमाग़, नाम पड़ा एक परमाणु परिक्षण साइट पर, ये मज़ेदार रही है बिकिनी की कहानी !
’हरामखोर’ के ट्रेलर में मजेदार किरदार मैं नज़र आ रहे हैं नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी

“मास्टर भी यु कहे दे इसे न पढ़ाना

नाम है जिसका अमित भड़ाना”

दोस्तों अब तो आप समझ ही गए होंगे की हम किसकी बात करने वाले है, जी हाँ यूट्यूब स्टार  अमित भड़ाना

दोस्तो आप सबने यूट्यूब पे अमित भड़ाना की वीडियो  तो बहुत देखीं   होगी लेकिन शायद ही बहुत कम लोग अमित भड़ाना की सफलता की की कहानी को जानते होंगे । तो चलिए आज हम आपको इस स्टार के बारे में विस्तार से बताते हैंI

“इतनी सी बात है आने वाली रात है
तेरा मेरा साथ है करनी कुछ बात है”

ऐसे ही डायलाग  की वजह से फेमस यूट्यूब के स्टार अमित भड़ाना ने आज यूट्यूब के जरिये आज अपनी कला को पूरे देश तक पहुचाया है

अमित भड़ाना का जन्म 7th सितम्बर ,1994   को दिल्ली  के एक गांव जोहरीपुर के नरेंद्र  भड़ाना और मुनीश जी के वहा हुआ , अमित ने अपनी पढ़ाई यमुना  बिहार के एक स्कूल से की I बचपन से ही अमित पढ़ाई में  बेहतर रहे, शायद यही वजह है की वो बोलते हैं

बेसक दिखने में हूँ मैं लोफर,
लेकिन हु में CBSE टोपर

अमित भड़ाना को दूसरे को हँसाना बहुत अच्छा लगता था । स्कूल  के पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने ग्रेजुएशन पूरी कर ली और फिर उन्होंने अपनी लॉ  की पढ़ाई शुरू कर दी और जब  उनकी 1st Year की छुट्टी शुरू हुई तब उन्होंने मजाक मजाक में अपने फ़ोन से एक वीडियो को डब  करके फेसबुक  पर अपलोड कर दिया ,कुछ दिनों बाद जब वो फेसबुक  पर आए और तब उन्होंने देखा कि उनके वीडियो पर बहुत अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है, तो अमित के दोस्तो ने उन्हें ऐसी ही और वीडियो बनाने के उत्साहित किया ।

तब अमित के ही दोस्त  ने अमित को वीडियोस  बनाने की सलाह दी पर अमित अपने चेहरे को वीडियो में दिखाने से हिचकिचा रहे थे ,लेकिन जब दोस्तों ने अमित का हौसला बढ़ाया ,तो तब फाइनली अमित ने वीडियो  बनाने का फैसला किया वो,कुछ अलग करना चाहते थे जो उनको बाकी से अलग कर सके । इसलिए उन्होंने अपनी गुजरी भाषा को चुना और इसी में वीडियो बनाके फेसबुक  पर अपलोड कर दी और इस वीडियो पे उन्हें काफी अच्छा रेस्पॉन्स मिला तो उन्होंने इसके बाद भी काफी अच्छा फनी वीडियो  डालीI  कहते है ना जब हम अपनी दिल की सुनकर कुछ अच्छा करने लगते है तो सामने से कुछ लोग रोकने आ जाते है ,

अमित के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ ,अब इन सबके बारे में उनके आस पास और समाज के लोगो को पता लग गया था तो समाज के कई लोगो ने अमित  से  कहा कि तू अपनी लॉ  की पढ़ाई पे ध्यान दे ये वीडियो में कुछ नही रखा जब काफी लोगो ने अमित से यह बात कही तो अमित के दिमाग मे भी काफी बाते चलती थी । अब उन्हें एक बहुत बड़ा फैसला करना था कि क्या वो आगे भी फनी वीडियो  बनाकर लोगो को हँसाते रहेंगे या आगे अपनी लॉ  की पढ़ाई पूरी करेंगे एक अच्छी सी नौकरी करेंगे जिनसे उन्हें अच्छे पैसे मिलेंगे मगर अमित ने अपनी पैशन को फॉलो करके  हँसाना पसंद किया । अमित ने पढाई नहीं छोड़ी ,पर हा अमित  ने तब अपनी वीडियोस की तरफ ज़्यादा ध्यान देना शुरू कर दिया था

आज यूट्यूब पे सभी वीडियोस बना के पोस्ट कर रहे हैं इसलिए अमित ने दूसरों से हट कर अपने वीडियो  में राइमिंग और फनी पंच  डालकर अपनी वीडियो  को अनोखा बना दिया है

किसी  का  कोई  जीकर   नहीं  है

तेरे  भाई  को  कोई  फ़िकर  नहीं  है  !!

अमित अपनी वीडियो  की एडिटिंग स्क्रिप्ट राइटिंग, डायलाग  सब कुछ खुद ही करते है । उनके वीडियो हिट होने का कारन  यही है कि वो अपने वीडियो  में बहुत अच्छे अच्छे डायलाग  बोलते है जो वो खुद गुजरी में लिखते है ।

तेरे भाई ने करदी है जिम शुरू  जिसको चाहू उसको लपेत दु 

और यह डायलाग  आज हर किसी के मुंह पर है , और सोशल मीडिया पर उनकी लोकप्रियता काफी बढ़ रही है,जहा एक और लोग गुजरी भाषा को गवार की भाषा समझ रहे थे और इस भाषा का प्रयोग करने से लोग हिचकिचाते रहे थे। वही दूसरी और अमित भड़ाना ने इसी भाषा के साथ यह मुकाम हासिल की ।

सुपर मैन तो सुना होगा और बैटमैन,
मैं उनका फूफा देसीमैन |

हम उम्मीद करते है भविस्य में भी अमित भड़ाना हमे ऐसे ही हँसाते रहेंगे ।

यदि हमारी पोस्ट आपको पसंद आयी हो तो इस पोस्ट में  कमैंट्स और शेयर जरूर करे।

ये भी पढ़ें:

Zanco ने पेश किया अपने हाथ के अंगूठे जितना दुनिया का सबसे छोटा फ़ोन

कई विवादों और फ़सादों के बावजूद 2017 रहा बेहद ख़ास जानिए इन ऐतिहासिक बदलावों की वजह !

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0