कोई नहीं नाप पाया इस कुंड की गहराई, क्या है भीम कुंड का रहस्य

कोई नहीं नाप पाया इस कुंड की गहराई, क्या है भीम कुंड का रहस्य

भीम कुंड बाजना क़स्बा, छतरपुर डिस्ट्रिक मध्य प्रदेश में स्थित हैI कहा जाता है की अज्ञातवास के समय पांडव यहाँ कुछ समय रुके थेI द्रौपदी को एक बार बहुत प्

होलाष्टक:क्यों है आठ दिन शुभ कार्य निषेध – Holashtak: Why to neglect auspicious work for Eight days?
इस मीनार में भाई बहिन नहीं जा सकते एक साथ, लेकिन क्यों ?
जटायु और सम्पाती

भीम कुंड बाजना क़स्बा, छतरपुर डिस्ट्रिक मध्य प्रदेश में स्थित हैI कहा जाता है की अज्ञातवास के समय पांडव यहाँ कुछ समय रुके थेI द्रौपदी को एक बार बहुत प्यास लगी थी और बहुत खोजने के बाद  भी जल नहीं मिलने पर भीम ने अपनी गदा से भूमि पर  शक्तिशाली प्रहार किया , और वहाँ एक बड़ा जल कुंड बन गयाI यह कुंड भीम की गदा के प्रहार से बना है इसलिए इसे भीम कुंड नाम दिया गया I यह स्थान अतयंत सुन्दर होने के साथ रहस्यमयी भी हैI आज तक इस  कुंड  की  गहराई का पता नहीं लग पाया हैI डिस्कवरी चैनल की टीम ने भी  यहां पे शोध किया था पर कुछ पता नहीं लग पायाI इस कुंड का जल बहुत साफ़ और शुद्ध है, इसका रंग नीला तथा पारदर्शी हैI इसके पानी की गुणवत्ता हिमालय के पानी जैसी ही हैI कहा जाता है की दुनिया भर में जब  भी कोई भौगोलिक घटना होती है  इस कुंड का जल स्तर स्वयं बढ़ने लगता हैI  इस कुंड के भीतर अनेक प्रकार के जीव जंतु होने का भी दावा किया जाता है, जिनकी खोज अभी तक नहीं हुई हैI

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0