आ गया नोटबंदी का रिजल्ट! क्या साबित हुआ पीएम मोदी का फैसला !

आ गया नोटबंदी का रिजल्ट! क्या साबित हुआ पीएम मोदी का फैसला !

नई दिल्ली :- मोदी जी ने जब नोटबंदी का ऐलान किया था तब पुरे देश मैं नुकसान को लेकर भरी चर्चा जारी है। उस समय विपछी नेता बार बार मोदी जी को अलग अलग तरह

जानिए गन्ने के रस के ऐसे फायदे जो आपने कभी नहीं सुने होंगे।
शाकाहारी हैं तो आज ही शामिल करें प्रोटीन से भरपूर ये आहार अपनी डाइट में
आदित्य पंचोली ने किया नाजायज रिश्ते का खुलासा । मैं और कंगना पति पत्नी की तरह रहते थे !

नई दिल्ली :- मोदी जी ने जब नोटबंदी का ऐलान किया था तब पुरे देश मैं नुकसान को लेकर भरी चर्चा जारी है। उस समय विपछी नेता बार बार मोदी जी को अलग अलग तरह के इल्जाम लगा रहे थे और जनता को गुमराह कर रहे थे। और अब नोटबंदी का समय ख़तम होगया हैं। अब अपने अपने काम मैं मस्त हो गये, और नेता सब चुनाव प्रचार मैं मस्त हैं लेकिन सबसे बड़ा सवाल आज भी यही है कि आखिर दो महिनों कि हज़ारों परेशानियों के बाद पीएम मोदी द्वारा लिए गए नोटबंदी के फैसले से जनता को लाभ हुआ या नुकसान।

नोटबंदी के चलते कम हुई महंगाई :-

1. मोदी सरकार द्वारा लिए गए ऐतिहासिक फैसले का रिजल्ट सकारात्मक है। नोटबंदी के असर से खाद्य वस्तुओं के दाम पिछले तीन साल में सबसे निचले स्तर पर पहुँच गए हैं।

2. सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय द्वारा सोमवार (13 फरवरी) को जारी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक जनवरी में सब्जियों के दाम सालाना स्तर पर 15.62 प्रतिशत नीचे रहे

3. जबकि दिसंबर में दाम सालाना आधार पर 14.59 प्रतिशत घटे थे।

4. दालें जनवरी 2016 की तुलना में 6.62 प्रतिशत सस्ती रहीं

5. जबकि इसी दौरान फलों के वर्ग की मुद्रास्फीति 5.81 प्रतिशत रही

6. ईंधन और बिजली वर्ग की मुद्रास्फीति 3.42 प्रतिशत रही।

modi2

गरीबों और मध्यम वर्ग को फायदा :-

1. गौरतलब है कि मोदी सरकार ने 8 नवंबर 2016 को 500 और 1000 रुपए के नोटों का चलन बंद कर दिया था।

2. क्योंकि बाजार में 86 प्रतिशत नकदी इन्हीं मूल्य के नोटों में रखे गए थे, इसीलिए नोट बंद होने से उत्पन्न नकदी के कारण खुदरा बाजार प्रभावित हुआ।

3. पिछले तीन सालों के मुकाबले उपभोक्ता खाद्य मूल्य जनवरी में कुल मिला कर 0.53 प्रतिशत गिरा

4. जबकि जनवरी में ग्रामीण क्षेत्र संबंधी खुदरा मुद्रास्फीति 3.36 प्रतिशत और एक माह पूर्व यह 3.83 प्रतिशत थी।

5. शहरी क्षेत्र की खुदरा मुद्रास्फीति 2.90 प्रतिशत पर स्थिर रही।

यदि आपको हमारी पोस्ट पसंद आये तो हमे कमेंट जरूर करे और हमारे पोस्ट को शेयर जरूर करे.

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0