धर्म के नाम पर खून बहाने वालों को पश्चिम बंगाल जाकर मंदिर-मस्जिद का ये नज़ारा ज़रूर देखना चाहिए !

धर्म के नाम पर खून बहाने वालों को पश्चिम बंगाल जाकर मंदिर-मस्जिद का ये नज़ारा ज़रूर देखना चाहिए !

पश्चिम बंगाल के झाड़ग्राम ज़िले से हिंदू और मुस्लिम सौगात की एक अनोखी मिसाल सामने आई है, घोराधरा बस्ती के मंदिर में पूजा और मस्जिद में नमाज़ का नज़ारा

ऑफिस पहुँचकर सबसे पहले करे ये 6 काम !
इस मीनार में भाई बहिन नहीं जा सकते एक साथ, लेकिन क्यों ?
रोचक खबर !!! ताज महल के कई राज़ हम लाएं हैं खोज के, इन बातों को पढ़ कर आप हैरान रह जायेंगे :विडियो

पश्चिम बंगाल के झाड़ग्राम ज़िले से हिंदू और मुस्लिम सौगात की एक अनोखी मिसाल सामने आई है, घोराधरा बस्ती के मंदिर में पूजा और मस्जिद में नमाज़ का नज़ारा अपने आप में बेहद अद्भुत है. दरअसल, यहां वर्षों पुराना शिव मंदिर और सईद ग़ुलाम चिश्ती की दरगाह एक ही जगह स्थापित है…

घोराधरा बस्ती के लोग धर्म और मज़हब की बातों से काफ़ी ऊपर ऊठ चुके हैं. झाड़ग्राम ज़िले की इस बस्ती में आपको प्यार और एकता के अलावा कुछ नज़र नहीं आएगा, इस बस्ती में जाती या धर्म के नाम पर कोई भी कुछ नहीं कर सकता हैं इस गांव में सब एक समान हैं एकता की इससे अच्छी मिसाल और क्या होगी कि शिव मंदिर में महामृत्युंजय मंत्र और मस्जिद में कुरान एक साथ पढ़ी जाती है और पूजा भी एक साथ होती हैं और  हर शाम भजन ख़त्म होने के बाद लोग ढोलक मंजिरे लेकर कव्वाली गाने लग जाते हैं.

1
अब आपको बताते हैं कि ये पूरा मसला है क्या और कैसे हुई इस अनूठी पहल की शुरूआत? दरअसल, साल 1986 में नारायणचंद्र नाम के एक शख़्स ने अपने घर में शिवमंदिर बनवाया था. बाद में वह एक मुस्लिम पीर से काफ़ी प्रभावित हुए जो कि 1994 में दिवंगत हो गए. मुस्लिम पीर की आख़िरी इच्छा का सम्मान करने के लिए आचार्य ने शिवलिंग के पास में ही उनकी मज़ार बनवाई दी…

 

12

पिछले 23 सालों से मंदिर और मस्जिद की देखरेख में लगे नारायण चन्द्र आचार्य बताते हैं कि ‘वाकई यहां के हिंदू-मुस्लिम लोगों ने एक अनूठी मिसाल कायम की है. यहां किसी तरह का कोई धार्मिक संघर्ष नहीं है. धर्म के नाम पर दंगे फासद करने वाले लोगों को यहां ज़रूर आना चाहिए.

यदि हमारी पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इस मे पोस्ट कमैंट्स और शेयर जरूर करे।

ये भी पढ़ें :-

कबाब में हड्डी और प्यार में फिसड्डी लोगों की ये तस्वीरें देख कर आपकी हंसी निकल जाएगी !

जानिए भारत में कैसे शुरू हुई थी वेश्यावृत्ति, इतिहास की ये कहानी पढ़ दहल जाएगा दिल !

बीच में जिम छोड़ने से हो सकती है ये गंभीर समस्या !

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0