इस चिट्ठी को लेकर यूपी पुलिस की सही मौज ली जा रही है !

इस चिट्ठी को लेकर यूपी पुलिस की सही मौज ली जा रही है !

और कितने अच्छे दिन चाहिए आंय? सरकारी कर्मचारी काम करने लगे हैं.यहां तक कि वो इतनी छोटी छोटी चीजों का ध्यान रखने लगे हैं जिन्हें हम आप उत्तल लेंस व

UP Police Constable Online Form 2018 How to Apply Procedure ?
खुशखबरी यूपी पुलिस में Computer Operator के पद मैं भर्ती, तुरंत यहाँ करें आवेदन !
UP Police Recruitment 2018 | Apply UP Constable Online Form 41520

और कितने अच्छे दिन चाहिए आंय? सरकारी कर्मचारी काम करने लगे हैं.यहां तक कि वो इतनी छोटी छोटी चीजों का ध्यान रखने लगे हैं जिन्हें हम आप उत्तल लेंस वाला चश्मा लगाकर भी न देख पाएं. नमूना देख लो. वैसे ये लेटर जारी करने वालों को भी नमूने कह सकते हो. तीन दिन पहले से ये फेसबुक ट्विटर पर घूमने लगा. मजमून कुछ यूं था…..

बिजली डिपार्टमेंट के असिस्टेंट इंजीनियर मोहित साहब. दफ्तर मुरादाबाद. ऑफिस में लेट नाइट तक काम करने वाले कर्मचारियों को माचिस की जरूरत पड़ती है. वही माचिस जो आप उठा ले गए हो. तारीख 23 जनवरी रात 8.40 पर. उसकी वजह से यहां दिक्कत है. माचिस लौटाओ नहीं तो कोरट कचहरी के लिए तैयार रहो…..lallan

अच्छा इस चिट्ठी से ज्यादा मजेदार बात पता है क्या हुई. यूपी पुलिस भी सक्रिय हो गई. उत्तम पुलिस हो गई. अब उन पर इल्जाम लगाना बंद कर दो. कि 100 नंबर मिलाते हैं तो कोई उठाता नहीं. एफआईआर नहीं लिखी जाती. यहां उत्तर प्रदेश पुलिस के साहब राहुल श्रीवास्तव ने ट्वीट करके भरोसा जताया है. कि माचिस न मिले तो बताओ कानूनी शिकंजा कस दिया जाएगा. देखो हमारी मौज को सीरियसली लेने की जरूरत नहीं है. हम तो बमबम हैं कि यार पुलिस वाले भी कितने फ़नी हैं….

असली मौज इसके नीचे रिप्लाई करने वालों ने ली है. देख लो…….

ये भी पढ़ें :-

जिन चीज़ों को आप शाकाहारी समझते हैं, वो पूरी तरह से Vegetarian नहीं !

अक्षय कुमार की फिल्म ‘गोल्ड’ की कुछ बातें, जो कई सारे Record तोड़ सकती हैं

भारतीय सेना के 4 जवानों ने पाकिस्‍तान को दिया मुंहतोड़ जवाब, कई बंकर और चौकियां तबाह कीं !

कांग्रेस नेता की पीएम मोदी पर विवादित टिप्पणी, बीजेपी ने किया विरोध !

20 साल बाद जेल से गांव आया, गांव को देखकर बोला – मुझे वापस जेल भेज दो !

वैलेंटाइन डे 2018, दीपिका-रणवीर से लेकर अनुष्का-विराट तक, ये हैं B-town के HOT Couples

भारतीय सभ्यता को जानने की लिए महिलाओं के दुपट्टे के स्टाइल ही काफ़ी !

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0